}

Sing Up

C Programming Tutorial e-Book In Hindi

Online e-Libreary C Language

What is function in c in hindi

c language का हर प्रोग्राम एक या एक से अधिक function का समूह है c language के प्रत्येक प्रोग्राम में एक main function होता है यह यह संकेत करता है की प्रोग्राम कहा से शुरू हुआ है और कहा समाप्त हुआ है

c language में function 2 प्रकार के होते है

1. library function

2. user – define function


library function पहले से डिफाइन function है जिन्हें यूजर द्वारा परिभाषित करने की आवश्यकता नहीं होती है इस प्रकार के function को सीधे प्रोग्राम में use कर सकते है जेसे : print,scanf,getch,clrscr,cos,pow,strlen आदि

user define function प्रोग्रामर द्वारा बनाए जाते है एक बार डिज़ाइन करने के बाद ये function उस प्रोग्राम के लिए library function बन जाते है


1. Definition of Function :

एक function स्वय एक पूर्ण प्रोग्राम नहीं होता है जो मुख्य प्रोग्राम के किसी एक उपकार्य को संपदित करता है अत : function को एक मुख्य प्रोग्राम में use होने वाली तथा एक विशेष कार्य को सम्पादित करने वाली इकाई के रूप में use किया जाता है

सामान्यः एक function को निम्लिखित भागो में बाटा गया है

1. फंक्शन डिक्लेरेशन

2. फंक्शन कॉल

3. फंक्शन डेफिनेशन


1. function Declaration:

variable की तरह function को भी use करने से पहले डिक्लेअर करना अवश्यक होता है जिसे function प्रोटोटाइप कहते है function Declaration में function का नाम function का return type argument का type और argument की संख्या घोषित की जाती है

इसका syntax निम्लिखित है

data type function_name (type,type,......,type);

Example :

float xyz(int a,int b);

यह a और b argument है और xyz function का नाम है और float function का return type है इसका अर्थ यह है की function float type की value return करेगा


2. function call :

मुख्य प्रोग्राम में function को use करने के लिए function के नाम का use करते है function के नाम के बाद कोष्टक में पेरामिटर को कोमा के द्वारा विभक्त करते है function को call करने के लिए syntax निम्लिखित है

function_name(argument, argument..... ) ;

Example :

add(x,y);

x,y वास्तविक पैरामीटर (actual parameter) है


3. function Definition

function Definition में function का हैडर तथा function की body होती है function की body में वे सभी निर्देश होते है जो function में आवश्यक कार्य को पूरा करने में आवश्यक है function में फार्मल पैरामीटर का use करते है

Example :

int add(int ,int b)
{
int c;
c=a+b;
return c;
}

4. Function Prototype :

function प्रोटोटाइप का use compiler को ये बताने के लिए किया जाता है की सम्बंदित function में कितने argument है व् उनका Data type क्या है अत: अन्य शब्दों में कहा सकते है की function प्रोटोटाइप एक एसा statement होता है जो argument list और argument declaration को निम्लिखित तरह से प्रस्तुत करा है

data type function_name(type a1, type a2,..... type an);

Example :

float xyz (int a,float b);

चूँकि यह एक statement है अत: इसके अंत मे सेमीकोलन लगाया जाएगा उपरोक्त statement एक function प्रोटोटाइप है जो compiler को बता रहा है की function xyz में दो argument है जो क्र्मश: int व float type के है अत: function एक मान वापस करेगा जिसका data type float है यदि function कोई और data का मान वापस करेगा तो compiler एरर देगा



. Pev Next